उर्गम घाटी वाहनों की आवाजाही को ग्रामीण व पर्यटकों को करना होगा 15 दिनों का इंतजार

 उर्गम घाटी वाहनों की आवाजाही को ग्रामीण व पर्यटकों को करना होगा 15 दिनों का इंतजार
bagoriya advt
WhatsApp Image 2022-07-27 at 10.18.54 AM

चमोली : जिले की उर्गम घाटी के ग्रामीणों को वाहनों से आवाजाही के लिये आगामी 15 दिनों तक इंतजार करना होगा। पीएमजीएसवाई के अधिकारियों ने गुरुवार को अचानक भूस्खलन से क्षतिग्रस्त हेलंग-उर्गम सड़क के सुधारीकरण में 15 दिनों का समय लगने की बात कही है। ऐसे में घाटी के 13 गांवों के साथ ही यहां फंसे 250 पर्यटकों को भी वाहनों की निकासी के लिये 15 दिनों तक इंतजार करना होगा।
उर्गम घाटी में स्थित पंच केदार में पंचमकेदार कल्पेश्वर व ध्यान बदरी मंदिर के साथ ही डुमक, कलगोठ, किमाणा, पल्ला जखोला, उर्गम, ल्यारी, थैणा, पंचधार, सलना, तल्ला बडगिंडा, बडगिंडा, गीरा, बांसा, भर्की, भेंटा, पिलखी, ग्वाणा, अरोसी, देवग्राम गांवों को यातयात सुविधा के लिये पीएमजीएसवाई की ओर से हेलंग-उर्गम सड़क का निर्माण किया गया है। लेकिन रख-रखाव न होने के कारण सड़क खस्ताहाल पड़ी हुई है। जिसके चलते वीरवार को सड़क अचानक किलोमीटर 3 पर भूस्खलन के चलते बाधित हो गई है।

इधर, कनिष्ठ अभियंता, पीएमजीएसवाई अंकित बिष्ट हेलंग-उर्गम सड़क किलोमीटर तीन पर पहाड़ी के खिसकने से पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है। सड़क के सुधारीकरण का कार्य शुरु कर दिया गया है। लेकिन चट्टानी हिस्सा होने चलते यहां सड़क को सुचारु करने में 15 दिनों से अधिक का समय लगेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
error: Content is protected !!