चमोली में 1971 युद्ध की स्वर्ण जयंती पर श्रद्धाजंलि शहीदों को दी गयी

 चमोली में 1971 युद्ध की स्वर्ण जयंती पर श्रद्धाजंलि  शहीदों को दी गयी
bagoriya advt
WhatsApp Image 2022-07-27 at 10.18.54 AM

चमोली : 1971 के युद्ध में भारत की शानदार विजय की स्वर्ण जयंती पर जिले में अमर शहीद सैनिकों को पुष्प चक्र अर्पित करते हुए श्रद्धाजंलि दी गई। पुलिस एवं एनसीसी के जवानों ने अमर शहीदों को गार्ड ऑफ ऑनर देकर सलामी दी। गोपेश्वर स्थित शहीद पार्क में विजय दिवस की स्वर्ण जयंती आयोजित समारोह में जिलाधिकारी हिमांशु खुराना, सीडीओ वरुण चौधरी, एडीएम हेमन्त वर्मा, जिला स्तरीय अधिकारियों, गणमान्य नागरिकों एवं पूर्व सैनिकों ने अमर शहीदों को श्रद्वांजलि देते हुए उनके बलिदान को नमन किया और सभी देश वासियों को विजय दिवस की हार्दिक बधाई दी।

जिलाधिकारी ने सभी जनपदवासियों को विजय दिवस की हार्दिक बधाई देते हुए कहा कि देश की आन-बान और शान की रक्षा के लिए समर्पित सेना के जवानों और शहीदों पर राष्ट्र के प्रत्येक नागरिक को गर्व है। कहा कि आज का दिन हमें शहीदों के अदम्य साहस एवं बलिदान को स्मरण कराते हुए देश सेवा के लिए प्रेरित करता है। जिलाधिकारी ने सभी नागरिकों को अपने क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करते हुए देश सेवा में अपना अहम योगदान देने को कहा।

जिला सैनिक कल्याण एवं पुर्नवास अधिकारी कमाण्डर हेमन्त कुमार ने कहा कि आज हम स्वर्णिम विजय दिवस मना रहे हैं। 1971 में इसी दिन भारत-पाक युद्ध में देश के वीर सैनिकों ने अदम्य शौर्य का परिचय देते हुए दुश्मन देश के 93 हजार से अधिक सैनिकों को आत्मसमर्पण करने को मजबूर कर दिया था। इस युद्व में हमारे देश के 471 सैनिकों ने शहादत दी थी। जिसमें उत्तराखंड राज्य से 248 तथा जनपद चमोली से 51 सैनिकों शामिल थे। वीर सैनिको के अदम्य साहस और वीरता के लिए दो वीर चक्र और एक महावीर चक्र से सम्मानित किया गया। इस युद्ध के परिणाम स्वरूप ही विश्व में एक नये देश बांग्लादेश का उदय हुआ।

इस अवसर पर जिला स्तरीय अधिकारी, सामाजिक कार्यकर्ता, शहीद सैनिकों के परिजन, भूतपूर्व सैनिक एवं गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
error: Content is protected !!