वसूली में देवाल, पोखरी, चमोली व जोशीमठ तहसीलों की प्रगति धीमी

 वसूली में देवाल, पोखरी, चमोली व जोशीमठ तहसीलों की प्रगति धीमी
bagoriya advt
WhatsApp Image 2022-07-27 at 10.18.54 AM

गोपेश्वर : जिला प्रशासन की ओर से शुक्रवार को राजस्व विभाग की मासिक समीक्षा बैठक आयोजित की गई। इस दौरान जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने अधिकारियों को निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष मुख्य एवं विविध देयकों, आरसी आदि की वसूली, खनन, राजस्व वादों के निस्तारण में तेजी लाने के निर्देश दिये। इस दौरान वाणिज्य कर, स्टांप व निबंधन, आबकारी, परिवहन कर, वन, खनन, भू-राजस्व, रेवन्यू पुलिस, फौजदारी, शमन आदि मामलों और तहसील स्तर से प्राप्त शिकायतों की विस्तृत समीक्षा की गई।
जिलाधिकारी ने रेग्यूलर व राजस्व पुलिस क्षेत्रान्तर्गत विवेचना में लंबित अपराधिक मामलों तथा तहसील स्तरों पर 6 माह से अधिक समय से लंबित वादों को को शीघ्र निस्तारण करने व तहसील तथा न्यायालय में फौजदारी के अवशेष 94 वादों का शीघ्र समाधान करने की बात कही। देवाल, पोखरी, चमोली व जोशीमठ तहसील में विविध देयकों की वसूली में धीमी प्रगति पर उप जिलाधिकारियों को वसूली में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सेवानिवृत्त कर्मचारियों के लंबित पेंशन प्रकरणों का समय पर निराकरण करने के साथ ही पूर्व में सेवानिवृत्त हुए कर्मचारी के पेंशन प्रकरणों को शीघ्र निस्तारित करने के निर्देश दिये। कहा कि अधिकारी सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों के पेंशन प्रकरण उनके सेवाकाल में ही तैयार कर लें। तहसीलों में विभिन्न स्तरों से प्राप्त होने वाली शिकायतों की समीक्षा करते हुए डीएम ने प्राथमिकता पर शिकायतों का निराकरण करने की बात कही। बैठक में तहसील स्तर पर आवासीय भवनों के निर्माण, नगर पालिका के अन्तर्गत सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट हेतु भूमि चयन की स्थिति अन्य विषयों पर चर्चा की गई।
बैठक में बताया गया कि राजस्व पुलिस से रेग्यूलर पुलिस को हस्तांतरित वाद विवेचनाधीन है। राजस्व वादों में अवशेष 407 में से 20 वाद 6 माह से अधिक एवं एक वर्ष से कम अवधि के है तथा 12 वाद एक वर्ष से अधिक समय के है। पुराने वादों के निस्तारण की कार्यवाही गतिमान है। मुख्य देय में 85 प्रतिशत तथा विविध देयकों में 34 प्रतिशत वसूली कर ली गई है। स्टाम्प से निर्धारित लक्ष्य 3.50 करोड के सापेक्ष माह जुलाई तक 66.67 का लक्ष्य प्राप्त कर लिया गया है।
बैठक में अपर जिलाधिकारी अभिषेक त्रिपाठी, संयुक्त मजिस्ट्रेट अभिनव शाह, एसडीएम संतोष पाण्डे, एसडीएम कमलेश मेहता, एसडीएम कुमकुम जोशी, एसडीएम रवीन्द्र ज्वांठा, एडीजीसी केएस बर्त्वाल सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
error: Content is protected !!