मास्टर ऑफ सोशल वर्क में गोल्ड मेडल पिंडर की बेटी को मिला स्वर्ण पदक

 मास्टर ऑफ सोशल वर्क में गोल्ड मेडल पिंडर की बेटी को मिला स्वर्ण पदक
bagoriya advt
WhatsApp Image 2022-07-27 at 10.18.54 AM

चमोली :  हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय श्रीनगर के 9 वें दीक्षांत समारोह में सीमांत  चमोली की पिंडर घाटी स्थित नारायणबगड़ के डुंग्री गांव की बेटी किरन नेगी को मास्टर ऑफ सोशल वर्क के लिये स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया।

किरन नेगी नें 10 वीं और 12 वीं की परीक्षा नारायणबगड से और बीएससी की परीक्षा हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय श्रीनगर से उत्तीर्ण करने के पश्चात मास्टर ऑफ सोशल वर्क में गोल्ड मेडल जीतकर न केवल गढवाल केंद्रीय विश्वविद्यालय का नाम ऊँचा किया अपितु पहाड़ की बेटियों के लिए नये प्रतिमान भी स्थापित किया है। किरन नेगी नें मास्टर ऑफ सोशल वर्क में गोल्ड मेडल हासिल करके ये संदेश दिया है कि पहाड़ की बेटियाँ केवल खेत खलिहान, घास लकडी और चूल्हा चौके तक ही सीमित नहीं है। अब वो हर क्षेत्र में आगे बढ रही है और सफलता हासिल करने में सक्षम है। किरन नेगी की माँ गणेशी देवी भी अपनी बेटी को गोल्ड मेडल से सम्मानित होने के समारोह का हिस्सा बनी। कहती हैं कि हमें खुशी है कि उसने पहाड़ का नाम रोशन किया है। वहीं किरन नेगी ने अपनी सफलता का सारा श्रेय अपने माँ-पिताजी और शिक्षकों को दिया। किरन नेगी के पिताजी उद्यान विभाग में कार्यरत हैं। बहुमुखी प्रतिभा की धनी किरन नेगी पढ़ाई के साथ साथ गायिका भी हैं। किरन नेगी और नंदा सती नें उत्तराखंड के मांगल गीतों को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर भी एक नयी पहचान दिलाई है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
error: Content is protected !!