डीएम ने सीएस को गोपेश्वर पैट्रोल पम्प और 66 केवी विद्युत लाइन की समस्या से करवाया अवगत, बजट आंवटन की बात कही

 डीएम ने सीएस को गोपेश्वर पैट्रोल पम्प और 66 केवी विद्युत लाइन की समस्या से करवाया अवगत, बजट आंवटन की बात कही
bagoriya advt
WhatsApp Image 2022-07-27 at 10.18.54 AM

चमोली : मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधु ने गुरूवार को शासन स्तर पर लंबित जिले की योजनाओं को लेकर जिलाधिकारी सहित अधिकारियों की वीसी के माध्यम से बैठक ली। उन्होंने शासन स्तर पर लंबित समस्याओं का शीघ्र समाधान करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।
जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने मुख्य सचिव को समस्याओं से अवगत कराते हुए कहा कि जिले में श्रीनगर से जोशीमठ 66 केवी विद्युत लाईन ब्रेक डाउन होने पर जिला मुख्यालय सहित जिले के तीन ब्लाक बार-बार प्रभावित होते है। इसके समाधान के लिए सिमली-कर्णप्रयाग तक 66 केवी लाईन की नई लाईन का निर्माण किया जाना नितांत आवश्यक है। यातायात व्यवस्था हेतु गोपेश्वर पेट्रोल पम्प को शिफ्ट किए जाने हेतु धनराशि दी जानी है। साथ ही हेमकुंड साहिब के 16 किमी पैदल ट्रैक पर गेस्ट हाउस, सार्वजनिक शौचालय, पेयजल एवं पार्किंग की व्यवस्था की जानी है। बार्डर क्षेत्र नीति में धार्मिक स्थल टिमरसैंण महादेव मंदिर स्थित है। वैली में पर्यटन को विकसित कर स्थानीय लोगों को स्वरोजगार हेतु नीती, माणा, घस्तोली-रत्ताकोना तक जाने की स्वीकृति दी जानी चाहिए। बद्रीनाथ में वीआईपी के दृष्टिगत एक अच्छे राजकीय अतिथि गृह का निर्माण और जोशीमठ के सिंहधार तोक में हैलीपैड के लिए 10 नाली भूमि की आवश्यकता है। पोखरी बैंड से टंगसा-सिरोखोमा होते हुए मंडल वाईपास मोटर मार्ग निर्माण और हल्दापानी में भू-धसाव, जनपद में चिकित्सकों की कमी, एयर एंबुलेंस बुलाने की प्रक्रिया को सुगम बनाए जाने, शैडो एरिया में मोबाइल कनेक्टिविटी दूर करने, जिला पुस्तकालय, गौचर में डायट का पुस्तकालय का डिजिटाइजेशन एवं आधुनीकरण एवं सभी ब्लाकों में पुस्तकालय स्थापित किया जाना प्रस्तावित है। जिससे जनता को लाभ मिल सके।

इनोवेटिव कार्यो की जानकारी देते हुए जिलाधिकारी ने बताया कि पांचों बद्रीधाम और दो केदार धाम जिले है, यहां पर अवस्थापना सुविधाओं को विकसित कर एक सर्किट के रूप में तैयार किया जा रहा है। बैरांगना में ट्राउट कैफे हाउस विकसित किया जा रहा है। बेनीताल क्षेत्र को एस्ट्रो टूरिज्म के रूप में प्रमोट किया जा रहा है। स्वास्थ्य सुविधाओं के तहत जिला चिकित्सालय गोपेश्वर का विस्तारीकरण किया जा रहा है। एनटीपीसी की ओर से सीएचसी जोशीमठ तथा रेलवे के माध्यम से एसडीएच कर्णप्रयाग तथा टीएचडीसी के माध्यम से जिला चिकित्सालय का सुधारीकरण एवं नवीनीकरण किया जाना प्रस्तावित है। इस दौरान जिलाधिकारी ने शासन स्तर पर लंबित विभिन्न प्रकरणों के बारे में भी अवगत कराया। मुख्य सचिव ने लंबित प्रकरणों पर शासन के अधिकारियों को शीघ्र कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कहा कि सभी सम्बन्धित विभाग आपसी सामंजस्य बनाकर कर लंबित प्रकरणों का शीघ्र निराकरण करें। जनपद में अभिनव पहल पर जिलाधिकारी के प्रयासों की सराहना करते हुए मुख्य सचिव ने कहा कि शासन स्तर से हर संभव सहयोग उपलब्ध कराया जाएगा। वीसी में मुख्य विकास अधिकारी वरूण चौधरी, अपर जिलाधिकारी हेमंत कुमार वर्मा सहित संबधित विभागों के अधिकारी भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
error: Content is protected !!