बैंक कैशियर पर खाताधारकों और स्टॉक मनी से लाखों की धनराशि धोखाधड़ी का आरोप

 बैंक कैशियर पर खाताधारकों और स्टॉक मनी से लाखों की धनराशि धोखाधड़ी का आरोप
bagoriya advt
WhatsApp Image 2022-07-27 at 10.18.54 AM
  • खाताधारकों और बैंक प्रबंधक ने मामला कराया दर्ज

नई टिहरी : नगर के भारतीय स्टेट बैंक बीपुरम भागीरथीपुरम में खाताधारकों व बैंक की चेस्ट (स्टॉक मनी) से कैशियर की ओर से लाखों रुपये गबन का मामला सामने आया है। खाताधारकों ने एसएसपी को लिखित शिकायत देकर धनराशि दिलवाने व दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है। दूसरी ओर बैंक प्रबंधक ने भी मामले में कैशियर के खिलाफ कोतवाली नई टिहरी में शिकायत दर्ज करवाई है। पुलिस ने बताया कि अभी तक की जांच में  लगभग 81 लाख रुपये की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है।

बता दें, बैंक में हुई धोखाधड़ी का खुलासा तब हुआ जब बीते सोमवार को बागी गांव की खाताधारक कांता देवी पैसा निकालने बैंक पहुंची। तो उन्हें पता चला कि उनके खाते में 1580 रुपये ही शेष हैं। ऐसे में उन्होंने बैंक प्रबंधक से वार्ता कर बताया कि उनके खाते में 12 लाख 4 हजार 962 रुपये थे। साथ ही उन्होंने अपनी एफडी भी कराई तो उसमें भी 5 लाख 58 हजार 570 रुपये भी गायब थे। घटना का पता चलने पर खाताधारक डब्बी देवी ने भी अपना खाता चेक कराया तो उनके खाते से भी 10 लाख रुपये और 20 लाख रुपये की एफडी की धनराशि गायब थी।

बागी गांव की ही सुषमा देवी ने भी वीरवार को एसएसपी को दिए ज्ञापन में बताया कि उन्होंने चार लाख रुपये का म्यूचल फंड (एमएफ) खरीदा था, लेकिन बैंक से पता चला है, कि फंड के चार लाख रुपये बैंक कैशियर विनयपाल सिंह नेगी के खाते में ट्रांसफर किए गए हैं। अभी तक खाताधारकों के 68 लाख रुपये की धोखाधड़ी सामने आई है।

जांच के दौरान पता चला है कि कैशियर ने उन खाता धारकों को निशाना बनाया, जो हस्ताक्षर की जगह अंगूठा लगाते थे। धोखाधड़ी का पता चलने पर कई लोग बैंक पहुंच रहे हैं। जिससे अंदेशा लगाया जा रहा है, कि अभी और धोखाधड़ी सामने आ सकती है।

पुलिस के अनुसार कैशियर ने बैंक की स्टॉक मनी से भी लगभग साढ़े 13 लाख रुपये निकाले गए हैं। इसका पता चलने पर बैंक प्रबंधन ने कैशियर से हड़पी गई राशि जमा कराने को कहा था। लेकिन उसके कुछ दिन बाद ही खाताधारकों से धोखाधड़ी की पोल खुल गई। कोतवाली प्रभारी कमल मोहन भंडारी ने बताया कि प्राथमिक जांच में लगभग साढ़े 81 लाख रुपये के गबन का पता चला है।

एसबीआई के शाखा मैनेजर विपिन गौतम ने धोखाधड़ी के आरोपी कैशियर विनयपाल सिंह नेगी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस का कहना है कि आरोपी कैशियर को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
error: Content is protected !!