श्रद्धालुओं के लिये चुनौती से कम नहीं होगा इस वर्ष अनसूया देवी मेले में पहुंचना

 श्रद्धालुओं के लिये चुनौती से कम नहीं होगा इस वर्ष अनसूया देवी मेले में पहुंचना

(फाइल फोटो)।

rishi
  • मंदिर को जोड़ने वाला पैदल मार्ग चार माह से पड़ा क्षतिग्रस्त, सुधारीकरण नहीं हुआ शुरु

चमोली :मंडल घाटी में स्थित पुत्रदायनी सती अनसूया मंदिर का पैदल मार्ग जुलाई माह से क्षतिग्रस्त पड़ा हुआ है। ऐसे में दिसम्बर माह में मंदिर में आयोजित होने वाले मेले में शामिल होना श्रद्धालुओं के लिये चुनौती से कम नहीं होगा। वहीं आयोजन की तैयारियों के लिए भी यंहा अनसूया देवी ट्रस्ट समिति के पदाधिकारियों को खासी दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं। पदाधिकारियों का कहना है कि प्रशासन और लोनिवि के अधिकारियों से लागातार पत्राचार के बाद भी वर्तमान तक स्थिति जस की तस बनी हुई है।
गौरतलब है 28 जुलाई को मंडल-अनसूया मंदिर पैदल मार्ग बारिश के चलते अंधेरा गदेरा नामक तोक में गदेरे के बहाव में बह गया था। जिसके बाद से यहां पैदल मार्ग क्षतिग्रस्त पड़ा हुआ है। ट्रस्ट के अध्यक्ष विनोद राणा का कहना है कि आगामी 17 व 18 दिसम्बर को मंदिर में अनसूया मेले का आयोजन किया जाना है। लेकिन पैदल मार्ग के क्षतिग्रस्त पड़े होने से यहां मेले आयोजन की तैयारियों में खासी दिक्कतें हो रही हैं। वहीं मेले में जाने वाली देव डोलियों का भी मंदिर पहुंचाना चुनौती पूर्ण बना हुआ है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
error: Content is protected !!