एस्ट्रो विलेज बेनीताल के साथ ही महाविद्यालयों में पर्यटन विभाग ने आयोजित की एस्ट्रो पार्टी

 एस्ट्रो विलेज बेनीताल के साथ ही महाविद्यालयों में पर्यटन विभाग ने आयोजित की एस्ट्रो पार्टी
bagoriya advt
WhatsApp Image 2022-07-27 at 10.18.54 AM
  • छात्र-छात्राओं को दी जा रही स्टार गेजिंग और एस्ट्रो फोटोग्राफी की जानकारी

चमोली : जिले के एस्ट्रोविलेज बेनीताल में पर्यटन विभाग की ओर से आयोजित तीन दिवसीय स्टार गेजिंग एवं एस्ट्रो फोटोग्राफी इवेंट के तहत बुधवार को गोपेश्वर में भी कार्यक्रम आयोजित किये गये। जहां विभाग की ओर से बेनीताल में रात्रि के समय कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। वहीं एस्ट्रो विलेज के प्रचार-प्रसार के लिये महाविद्यालयों में भी कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। कार्यक्रम के दौरान डॉब सोनियन, थाउजेंट ऑक्स, पिन हॉल कैमरा एवं अन्य उपकरणों के माध्यम से खगोलीय नक्षत्र, तारें, ग्रहों को दिखाने के साथ ही उनके बारे महत्वपूर्ण जानकारियां दी जा रही है। जिला प्रशासन चमोली ने पर्यटन विभाग के तत्वाधान में खगोलीय घटनाओं के दिलकश और रहस्यमयी नजारों को बेहद करीब से दिखाने के लिए एस्ट्रोविलेज बेनीताल में इस तरह का यह पहला कार्यक्रम आयोजित किया। जिसमें दूर-दूर से आए खगोल प्रेमियों और स्थानीय लोगों ने बडे उत्साह के साथ प्रतिभाग किया जा रहा है। बेनिताल में आयोजित स्टार गेजिंग इवेंट के दौरान जिलाधिकारी हिमांशु खुराना, पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चैहान, मुख्य विकास अधिकारी वरूण चैधरी, जिला पर्यटन विकास अधिकारी वृजेन्द्र पांडेय सहित पर्यटक एवं स्थानीय लोग देर रात तक इवेंट में मौजूद रहे।
जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने कहा कि पर्यटक स्थल बेनीताल को एक एस्ट्रोविलेज के रूप में विकसित किया जा रहा है। इसी के तहत यहां पर स्टार गेजिंग एवं एस्ट्रो फोटोग्राफी इवेंट का आयोजन किया गया है, जिसमें बाहर से भी एक्सपर्ट बुलाए गए है। विशेषज्ञों द्वारा यहां पर स्थानीय लोगों को स्टार गेजिंग एस्ट्रोनॉमी के बारे में प्रशिक्षित किया जा रहा है, ताकि स्थानीय लोग एस्ट्रो की जानकारी लेने के बाद इसको एक स्वरोजगार की तरह अपना सके। उन्होंने कहा कि बेनिताल में एस्ट्रो टूरिज्म को विकसित करने के लिए स्थानीय लोगों के साथ मिलकर सामुदायिक रूप से प्रयास किया जा रहा है।
जिला पर्यटन विकास अधिकारी वृजेन्द्र पांडे ने कहा कि 13 डिस्ट्रिक्ट 13 डेस्टिनेशन के रूप में जनपद चमोली में बेनीताल साईट को चयनित किया गया है। जिसके तहत बेनीताल को एस्ट्रोविलेज के रूप में बनाया जाना प्रस्तावित है। जिले में एस्ट्रो टूरिज्म को बढावा देने और लोकल स्टेक होल्डर्स को उनको एस्ट्रो टूरिज्म के बारे में समझाने के लिए इस इवेंट के साथ यहां पर तीन दिवसीय वर्कशॉप का भी आयोजन किया जा रहा है। जिसमें उनकों बेसिक फोटोग्राफी स्किल, ग्रह, नक्षत्र व तारों की पहचान करने और उनके पीछे की कहानियां के बारे में बताया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस इंवेट में एस्ट्रोनॉमी और एस्ट्रोटूरिज्म की जानकारी लेने बाहर से भी गेस्ट आए है और बेनीताल में आकर अलग अनुभव महसूस कर रहे है। उन्होंने कहा कि डार्क स्काई कॉन्सेप्ट हमारे क्षेत्र में काफी नया है। बेनीताल में 180 डिग्री ब्यू के साथ रात में ग्रह, नक्षत्र और तारे साफ दिखाई देते है। यहां पर एस्ट्रो इवेंट अभी एक शुरूआत है और आने वाले समय में यहां पर इस प्रकार के अन्य इवेंट भी आयोजित किए जाएंगे।
स्टार गेजिंग एवं एस्ट्रो फोटाग्राफी इवेंट के बुधवार को तहत राइका गोपेश्वर तथा पीजी कॉलेज गोपेश्वर में भी वर्कशाप का आयोजन किया गया। जिसमें छात्रों को राकेट सांइस की बेसिक जानकारी दी गई। इस अवसर पर पेंटिंग कार्यशाला भी आयोजित की गई। प्रसिद्व आर्टिस्ट तीर्थाकर विश्वास ने छात्रों को पेंटिंग के संबध में जानकारी दी। गुरूवार को पीजी कॉलेज कर्णप्रयाग में इसी विषय पर वर्कशॉप का आयोजन किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
error: Content is protected !!